US रिपोर्ट का दावा- तरक्की करने वाले देशों में भारत का न्यूक्लियर प्रोग्राम बड़ा

nuckler_1446530378अमेरिका के एक थिंकटैंक की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि जो देश डेवलपमेंट कर रहे हैं, उनमें भारत का न्यूक्लियर प्रोग्राम सबसे बड़ा है। उसके पास हथियार बनाने लायक प्लूटोनियम का अच्छा-खासा स्टॉक है।
क्या कहती है रिपोर्ट?
यूएस बेस्ड इंस्टीट्यूट फॉर साइंस एंड इंटरनेशनल सिक्युरिटी की 2014 की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत के पास मौजूदा वक्त में 75 से 125 न्यूक्लियर हथियार हो सकते हैं। हालांकि, यह रिपोर्ट एेसे समय में आई है, जब पाकिस्तान के पास भारत से ज्यादा न्यूक्लियर हथियार होने का दावा किया जा रहा है। पिछले दिनों आई बुलेटिन ऑफ एटॉमिक साइंटिस्ट्स की न्यूक्लियर नोटबुक रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान न्यूक्लियर हथियारों के आंकड़े के मामले में भारत से कहीं आगे है।

क्या है वेपन ग्रेड?
वेपन ग्रेड न्यूक्लियर मटेरियल की प्योरिटी के बारे में बताता है। इसकी मदद से न्यूक्लियर हथियार बनाए जाते हैं। आमतौर पर प्लूटोनियम और यूरेनियम न्यूक्लियर हथियार बनाने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है।
प्लूटोनियम के बजाय यूरोनियम से बनाए सबसे ज्यादा हथियार
वेपन ग्रेड प्लूटोनियम से डेवलप किए जा रहे न्यूक्लियर हथियारों का आंकड़ा बेहद कम है। इसलिए ऐसा माना जा सकता है कि भारत के 70 फीसदी न्यूक्लियर हथियारों में वेपन ग्रेड यूरेनियम का इस्तेमाल हुआ है। अब तक के न्यूक्लियर हथियारों में 100 से 200 किलोग्राम यूरेनियम का इस्तेमाल हुआ है।
किसने तैयार की रिपोर्ट?
इस रिपोर्ट के पीछे डेविड अलब्राइट और सेरेना केलहर की भूमिका है। डेविड अलब्राइट यूएस कांग्रेस में एंटी-इंडिया कैम्पेन चलाने के लिए जाने जाते हैं। वह इंडो-यूएस सिविल न्यूक्लियर डील के सख्त खिलाफ हैं।
इससे पहले आई रिपोर्ट में क्या कहा गया था?
यह रिपोर्ट अमेरिका के कार्नेगी एंडोमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस और स्टिम्सन सेंटर द्वारा तैयार की गई थी। इसके अनुसार, न्यूक्लियर वेपन्स के मामले में पाकिस्तान फिलहाल अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन से पीछे है। लेकिन पाकिस्तान के पास भारत से ज्यादा न्यूक्लियर बम हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, अगले 10 साल में पाकिस्तान के पास 350 एटमी हथियार होंगे। उसके पास इन हथियारों को बनाने के लिए रॉ मटेरियल मौजूद है। फिलहाल, पाकिस्तान के पास करीब 110 एटमी हथियार हैं, जबकि भारत के पास ऐसे 100 हथियार हैं।
तीन साल पहले पाकिस्तान के पास भारत से 10 न्यूक्लियर बम ज्यादा थे
बुलेटिन ऑफ द एटॉमिक साइंटिस्ट ने मार्च में जारी अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि किन देशों के पास कितने न्यूक्लियर बम हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के पास 110 न्यूक्लियर बम हैं, जबकि भारत के पास 100 बम हैं। हालांकि, ये आंकड़े 2012 की स्थिति के मुताबिक बताए गए थे। तीन साल में हालात कितने बदले हैं, इस बारे में कोई आंकड़ा उपलब्ध नहीं है।
देश
न्यूक्लियर बम
भारत
90-100
पाकिस्तान
100-110
चीन
250
अमेरिका
7300
रूस
8000

और पढ़ें

 

Comment Here

Leave a Reply