करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

current affairs banner

करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

1. 7th Pay Commission: 3 गुना तक बढ़ सकती है सैलरी, हर 1 जुलाई को इन्क्रीमेंट

7th Pay Commission - न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

7th Pay Commission – न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

सातवें पे कमीशन ने केंद्र सरकार को सिफारिशें सौंप दी हैं। 31 दिसंबर तक इन पर आखिरी फैसला होगा। जरूरी हुआ तो कुछ बदलाव भी मुमकिन हैं। इसके बाद इसे फाइनेंस डिपार्टमेंट को भेजा जाएगा। बता दें कि आयोग के अध्यक्ष अशोक कुमार माथुर, सेक्रेटरी मीना अग्रवाल, सदस्य डॉ. राथिन राय और विवेक राक ने यह रिपोर्ट तैयार की है। नए कमीशन की सिफारिशों से 48 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को फायदा मिलेगा।
नए पे कमीशन की अहम सिफारिशें
अफसरों-कर्मचारियों की सैलरी को तीन गुना तक बढ़ाने और हर 1 जुलाई को इन्क्रीमेंट करने का प्रपोजल।
आईएएस, आईपीएस और आईआरएस अफसरों की सैलरी को एक जैसा करना। इससे आईपीएस और आईआरएस अफसरों की यह शिकायत दूर हो जाएगी कि उन्हें आईएएस से कम सैलरी मिलती है।
इस वक्त कर्मचारियों के 32 पे-बैंड हैं। इन्हें घटाकर 13 किए जाने का प्रपोजल। पे-बैंड कम हो जाने से आईएएस, आईपीएस और आईआरएस के पे-बैंड एक समान हो जाएंगे। ओर पढ़े

2. अब टैबलेट के रूप में मिलेगा गंगाजल, बेंगलुरु में चल रहा है रिसर्च

गंगाजल - न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

गंगाजल – न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

गंगाजल को जल्द ही बीमारियां ठीक करने वाली दवा के रूप में सामने लाया जाने वाला है। बेंगलुरु की जानकी रामचंद्रन सोसायटी इस पर रिसर्च कर रही है। फॉर्मूला तैयार होने पर जल्द ही सोसायटी इसे टैबलेट के रूप में बाजार में उतारेगी। ये टैबलेट अल्सर, लूज मोशन और पोलाइटिस जैसी पेट की बीमारियों को ठीक करने के काम आएंगे।
रूस वोल्गा के पानी से बना चुका दवाई
रूस की वोल्गा नदी के पानी को भी गंगा जैसा ही माना जाता है। रूस के वैज्ञानिकों ने बैक्टीरिया फॉज थेरेपी (जीवाणु विभोजी चिकित्सा) के बेस पर बैक्टो पायो डर्म नाम से मेडिसिन तैयार कर ली है। इसका यूज भी पेट की बीमारियां ठीक करने में किया जाता है। गंगाजल को लेकर भारत में भी काफी वक्त से रिसर्च चल रहा है।
गंगाजल में खास किस्म के वायरस
हरिद्वार में गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी के मेडिकल साइंस एंड हेल्थ डिपार्टमेंट के डीन प्रोफेसर आरसी दुबे ने दैनिक भास्कर को इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि गंगाजल को प्रदूषित (पॉल्यूटेड) मानने की बात को हम गलत साबित करेंगे। गंगाजल मेडिसिन भी है। मेडिकल साइंस भी इस बात को सही मानता है। गंगा जल में विषाणु पाए जाते हैं जो बैक्टीरिया को खत्म करके इसे शुद्ध रखते हैं। अगर कोई पेट की बीमारियों जैसे दस्त, अल्सर और पोलाइटिस से परेशान हो तो उसे हफ्ते में एक बार गंगाजल जरुर पीना चाहिए। ओर पढ़े

3. रूसी अरबपति ने 2600 करोड़ रु में बनवाया दुनिया का सबसे बड़ा लग्जरी जहाज

लग्जरी जहाज - न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

लग्जरी जहाज – न्यूज़ अपडेट 24 सेप्टेंबर 2015

रूस के अरबपति बिजनेसमैन एंड्री इगारेविच मेलनिचेंगो ने दुनिया की सबसे बड़ी पर्सनल याट बनवाई है। इसे मंगलवार को पहली बार टेस्टिंग के लिए उत्तरी जर्मनी के कील में समुद्र में उतारा गया। यह हाइब्रिड फ्यूल पावर से लैस है। इसमें इलेक्ट्रिक और डीजल, दोनों तरह के इंजन हैं। इसमें एक अंडरवाटर ऑब्जर्वेशन रूम भी है। इसकी अधिकतम रफ्तार करीब 40 किलोमीटर प्रति घंटे है।
क्या है इसकी खासियत?
* 300 फीट है ऊंचाई इस सबसे बड़े लग्जरी याट की। इसके खंभे दुनिया में सबसे मजबूत स्ट्रक्चर हैं।
* 468 फीट लंबा है। इसमें 20 मेहमान और 54 क्रू मेंबर आ सकते हैं।
* इसके एक डेक पर हेलिकॉप्टर स्टैंड बना है।
* काले कांच पर टच स्क्रीन कंट्रोलिंग डिस्प्ले है।
* 8 मंजिला है यह याट।
* अंडरवाटर ऑब्जर्वेशन रूम का एरिया 193 वर्गफीट है और इसमें कांच लगे हैं।
* 40 सीसीटीवी कैमरे और बम प्रूफ ग्लास से लैस। ओर पढ़े

4. हिंदी के प्रसिद्ध लेखक डॉ कमल किशोर गोयनका 24वें व्यास सम्मान से पुरस्कृत

प्रसिद्ध हिंदी लेखक डॉ कमल किशोर गोयनका को 22 सितंबर 2015 को वर्ष 2014 के लिए 24वें व्यास सम्मान से पुरस्कृत किया गया. उन्हें उनकी रचना ‘प्रेमचंद की कहानियों का काल क्रमानुसार अध्ययन’ के लिए सम्मानित किया गया.
गोयनका का कार्य हिंदी साहित्य के महान लेखक मुंशी प्रेमचंद द्वारा लिखी गयी रचनाओं का एक महत्वपूर्ण विश्लेषण है.
उन्हें हिंदी के जाने-माने लेखक प्रोफेसर विश्वनाथ प्रसाद तिवारी द्वारा 2.5 लाख रुपये की नगद राशि तथा एक प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया.
व्यास सम्मान
यह पुरस्कार वर्ष 1991 में के के बिड़ला फाउंडेशन द्वारा आरंभ किया गया. यह पिछले 10 वर्षों के दौरान हिंदी में प्रकाशित उत्कृष्ट साहित्यिक कार्यों के लिए दिया जाता है.
राम विलास शर्मा इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले पहले लेखक थे जिन्होंने ‘भारत के प्राचीन भाषा परिवार और हिंदी’ के लिए वर्ष 1991 में यह पुरस्कार प्राप्त किया. ओर पढ़े

5. आदित्य बिरला समूह द्वारा ऑस्ट्रेलियाई कॉपर खान को 10.75 मिलियन डॉलर में बेचने की घोषणा

आदित्य बिरला मिनरल लिमिटेड (एबीएमएल) ने 21 सितम्बर 2015 को क्वींसलैंड, ऑस्ट्रेलिया में अपने बंद पड़े बिरला माउंट गॉर्डन (बीएमजी) कॉपर खान, लाइट हाउस मिनरल होल्डिंग को 10.75 मिलियन डॉलर में बेचने की घोषणा की है.
समझौता की नियम एवं शर्तों के मुताबिक आहरण के पूरा होने पर लाइट हाउस मिनरल होल्डिंग्स 05 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर एबीएमएल को नकद देगी.
भविष्य में 10 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर नकद एबीएमएल को दिए जाएंगे, यदि तीन महीने तक लंदन मेटल एक्सचेंज में कॉपर का डिलीवरी कोटेड मूल्य औसतन 4.20 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर प्रति पोंड के हिसाब से कम से कम 6 महीने तक स्थिर रहता है.
आदित्य बिरला मिनरल के बारे में
ताम्बे के खनन और उसके विस्तार के लिए कार्यरत आदित्य बिरला मिनरल लिमिटेड, आदित्य बिरला समूह की ऑस्ट्रलियन इकाई है. एबीएमएल का हिंडालको इंडस्ट्री में 51 प्रतिशत का शेयर है. ओर पढ़े

6. एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता फुटबॉल खिलाड़ी प्रशांत सिन्हा का निधन

पूर्व भारतीय फुटबॉल खिलाड़ी और वर्ष 1962 में एशियाई खेलों का स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम के सदस्य प्रशांत सिन्हा का 22 सितंबर 2015 को कोलकाता के अस्पताल में निधन हो गया. वे 77 वर्ष के थे.
उनके परिवार में बेटी सोनाली और दामाद प्रतीक शामिल हैं. वह पिछले लम्बे समय से पीजी अस्पताल में भर्ती थे तथा कोमा में थे.
सिन्हा ने वर्ष 1962 के एशियाई खेलों के दौरान सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबलों में राष्ट्रीय टीम के लिए खेला था. वे वर्ष 1964 की उस भारतीय टीम का हिस्सा थे जो इज़राइल के खिलाफ फाइनल में हारने के बाद एशिया कप में उप विजेता रही थी.
सिन्हा ने 1964 से 1971 तक ईस्ट बंगाल की ओर से भी खेला. ओर पढ़े

7. ज़ैन खान भारतीय मोटर स्पोर्ट्स क्लब संघ के अध्यक्ष निर्वाचित

ज़ैन खान 22 सितंबर 2015 को सर्वसम्मति से भारतीय मोटर स्पोर्ट्स क्लब संघ (एफएमएससीआई) के अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किये गये. तत्कालीन अध्यक्ष भरत राज की 15 अगस्त को आकस्मिक मृत्यु के बाद उनकी नियुक्ति आवश्यक थी.
खान हैदराबाद के निवासी हैं तथा पश्चिमी भारत ऑटोमोबाइल एसोसिएशन का प्रतिनिधित्व करते हैं. खेलों में उनका काफी वर्षों से अनुभव रहा है तथा भारत में खेलों में तकनीकी सहायता करने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है.
खेल के विकास, प्रशिक्षण तथा मैदानी समझ के कारण खान रैली के बारे में व्यापक ज्ञान रखते हैं. उन्हें अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर भी वृहद अनुभव प्राप्त है.
मोटर स्पोर्ट्स क्लब संघ (एफएमएससीआई)
एफएमएससीआई की स्थापना वर्ष 1971 में पांच क्लबों द्वारा देश में मोटर स्पोर्ट्स को बढ़ावा देने हेतु की गयी. ओर पढ़े

8. केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय कूटलेखन मसौदा नीति जारी किया

सितंबर 2015 के चौथे सप्ताह में इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग (DeitY) ने राष्ट्रीय कूटलेखन मसौदा नीति जारी कर दिया.
इस नीति का उद्देश्य सरकारी एजेंसियों, व्यापारों एवं नागरिकों के बीच साइबर स्पेस में अधिक सुरक्षित संचार एवं वित्तीय लेन–देन के लिए कूटलेखन प्रौद्योगिकियों और उत्पादों के इस्तेमाल को बढ़ावा देना है.
इस मसौदा नीति का प्रारूप सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000 की धारा 84 ए और धारा 69, जो कूटलेखन और विकोडन के तरीकों की व्यवस्था के बारे में है, के तहत बनाया गया है.
राष्ट्रीय कूटलेखन नीति मसौदा की विशेषताएं
इसका विजन साइबर स्पेस में राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण सूचना प्रणालियों और नेटवर्क समेत लोगों, व्यापारों, सरकार के लिए सुरक्षित सूचना माहौल और लेनेदेन को सक्षम बनाना है. ओर पढ़े

9. भारतीय तटरक्षक बल ने स्वदेशी जहाज अपूर्व और सी–421 को नव सेना डॉक में शामिल किया

21 सितंबर 2015 को भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने देश में बने जहाजों अपूर्व और सी–421 को मुबई के नौसेना डॉक पर शामिल कर लिया.
इन्हें फ्लैग ऑफिसर पश्चिमी नौसेना कमान के प्रमुख एसपीएस चीमा ने शामिल किया.
इन जहाजों को शामिल किए जाने से अरब सागर के तट के साथ समुद्री सुरक्षा को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है.
आईसीजीएस अपूर्व की विशेषताएं
यह 50 मीटर लंबा तेज गश्ती पोत (एफपीवी) है.
यह 317 टन को विस्थापित करता है और 33 नॉट्स की अधिकतम गति पर चल सकता है.
इसमें नवीनतम हथियार, उन्नत संचार एवं नौवहन उपकरण लगे हैं जो इसे अलग-अलग प्रकार के तटीय निगरानी,पाबंदी, राहत एवं बचाव और चिकित्सा निकास मिशनों के लिए आदर्श मंच प्रदान करता है. ओर पढ़े

10. मोदी के अमेरिका दौरे से पहले अरबों डॉलर के सैन्य हेलीकॉप्टरों सौदे को मंजूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा से पहले सुरक्षा संबंधी कैबिनेट समिति (सीसीएस) ने अमेरिकी विमानन कंपनी बोइंग से 22 अपाशे अटैक हेलीकॉप्टरों और 15 शिनूक हेवी लिफ्ट हेलीकॉप्टरों की खरीदारी के सौदे को मंजूरी दे दी है.
जून में होना था यह सौदा
सरकारी सूत्रों ने बताया, ‘अपाशे और शिनूक (हेलीकॉप्टरों) को मंजूरी दी गई.’ रक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों को उम्मीद थी कि 2013 में इस सौदे पर बातचीत कर अंतिम रूप दिए जाने के बाद ढाई अरब डालर से ज्यादा मूल्य के इस सौदे पर इस साल जून में अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर की यात्रा के दौरान दस्तखत किए जाएंगे. अपाशे का यह सौदा ‘हाइब्रिड’ है और इसमें हेलीकॉप्टर के लिए एक करार पर बोइंग के साथ दस्खत किए जाएंगे जबकि उसके हथियारों, रडार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध उपकरणों के लिए अमेरिका सरकार के साथ दस्तखत किए जाएंगे.
भारतीय रक्षा बाजार में अमेरिका बनाना चाहता है जगह
अमेरिका इसके करार पर जोर दे रहा था क्योंकि यह भारत के बढ़ते रक्षा बाजार का फायदा अमेरिका उठाना चाहता है. पिछले एक दशक के दौरान अमेरिकी कंपनियों ने तकरीबन 10 अरब डालर मूल्य के रक्षा करार हासिल किए हैं. इनमें पी-81 नौवहन टोही विमान, सी-130जे ‘सुपर हरक्यूलियस’ और सी-17 ग्लोबमास्टर-3 जैसे विमानों के करार शामिल हैं. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने कल अमेरिका रवाना होंगे. हेलीकॉप्टर सौदा अमेरिकी पक्ष की तरफ से 10 मूल्य समीक्षाओं से गुजरा है. ओर पढ़े

 

इस महीने के ओर भी न्यूज़ & करेंट अफेर्स जानने के लिए नीचे लिंक पे क्लिक करे:
करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 23 सेप्टेंबर 2015
करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 22 सेप्टेंबर 2015
करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 21 सेप्टेंबर 2015

Comment Here

Leave a Reply