करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 22 सेप्टेंबर 2015

current affairs banner

करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 22 सेप्टेंबर 2015

1. सेबेस्टियन वेट्टल ने सिंगापुर ग्रां प्री 2015 फार्मूला वन का ख़िताब जीता

जर्मनी के फेरारी ड्राइवर सेबेस्टियन वेट्टल ने 20 सितंबर, 2015 को सिंगापुर ग्रां प्री 2015 फार्मूला वन का ख़िताब जीत लिया. इस प्रतियोगिता में ऑस्ट्रेलिया के डैनियल रिकार्डो दूसरे स्थान पर रहें. इस प्रतियोगिता का आयोजन एशिया के प्रथम स्ट्रीट सर्किट मरीना बे स्ट्रीट सर्किट पर किया गया था
इस रेस के शीर्ष पांच विजेता फेरारी, रेड बुल, मर्सिडीज, विलियम्स और टोरो रोसो थे.

वेट्टल की यह चौथी जीत थी. इसके अतिरिक्त वे 2011, 2012 और 2013 में भी इस प्रतियोगिता का ख़िताब जित चुके हैं. 2015 में ग्रांड प्रिक्स 2015 प्रतियोगिता के अंतर्गत यह उनकी तीसरी जीत थी. इससे पूर्व वे मलेशियाई ग्रांड प्रिक्स 2015 और हंगरी ग्रां प्री 2015 का ख़िताब भी जीत चुके हैं. और पढ़ें

2. श्रीलंका पर मानवाधिकार जांच की संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त की रिपोर्ट जारी

16 सितंबर 2015 को जेनेवा, स्विट्जरलैंड में श्रीलंका पर मानवाधिकार जांच (ओआईएसएल) की संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त की रिपोर्ट जारी कर दी गई. संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त ने ओआईएसएल की नियुक्ति 2014 में की थी.

ओआईएसएल ने 2002 और 2011 के बीच श्रीलंका में चले गृह युद्ध के अंतिम चरण की जांच की और कहा कि युद्ध संबंधित अपराध और मानवता विरोधी अपराध दोनों ही पक्षों–श्रीलंकाई सुरक्षा एजेंसियों और लिबरेशन टाइगर्स तमिल ईलम (एलटीटीई), के द्वारा किए गए.
पीड़ितों को न्याय देने के लिए, रिपोर्ट में अंतरराष्ट्रीय न्यायाधीशों, वकीलों, अभियोग पक्ष के वकीलों और जांचकर्ताओं द्वारा हाइब्रिड विशेष अदालत के गठन की सिफारिश की गई है. और पढ़ें

3. जापान के डाइट ने सैन्य उपयोग के लिए सेल्फ डिफेंस फोर्सेज की विदेश नियुक्ति पर प्रतिबंध हटाया

जापानी संसद द डाइट ने 18 सितंबर 2015 को दो सुरक्षा बिल पारित किए जो सैन्य उपयोग के लिए सेल्फ डिफेंस फोर्सेज की विदेशों में तैनाती की अनुमति देते हैं.

अशस्त्रीकरण बिल (remilitarization bills) को ऐतिहासिक कहा जा सकता है क्योंकि ये जापान को 70 वर्षों के बाद सैन्य समर्थक के तौर पर सक्रिए होने की अनुमति देते हैं.
जापान के संविधान के अनुच्छेद 9 शासन रूपरेखा में शांतिवाद का सिद्धांत है.

1945 का संविधान अमेरिका द्वारा प्रायोजित था और ऐसा द्वितीय विश्व युद्ध में पराजित जापान की युद्धोत्तेजक प्रवृत्तियों को कम करने के उद्देश्य से किया गया था. और पढ़ें

4. नेपाल की संसद ने नए संविधान को मंजूरी दी

सात वर्षों के श्रमसाध्य प्रयासों और विचार–विमर्श के बाद नेपाल के संविधान सभा ने 16 सितंबर 2015 को नए संविधान को मंजूरी दे दी और संविधान मसौदा की प्रस्तावना का समर्थन किया. संविधान का अनुच्छेद 301 संविधान के शीर्षक और लागू होने की तिथि को परिभाषित करता है.
601 सदस्यों वाले विधानसभा में 507-25 मतों से पास होने वाला नया संविधान देश को सात संघीय प्रांतों में विभाजित करता है.
नेपाली कांग्रेस, सीपीएन–यूएमएल और यूसीपीएन माओवादी के सांसदों ने संविधान के मसौदा का सर्मथन किया, हालांकि अल्पसंख्यक समूहों ने प्रातों के गठन, सीमाओं और आकार के आधार पर इसका विरोध किया. हिन्दू–समर्थक और राजशाही राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी नेपाल समर्थक करीब 25 सांसदों ने विधेयक के खिलाफ वोट डाला. और पढ़ें

5. एनजीटी ने यमुना नदी को प्रदूषित होने से बचाने के लिए दिशा–निर्देश पारित किए

आने वाले त्योहारों के मद्देनजर राष्ट्रीय हरित अधिकरण (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल–एनजीटी) ने 16 सितंबर 2015 को यमुना नदी को प्रदूषित होने से बचाने के लिए दिशा–निर्देश पारित किए.
अपने निर्देश में एनजीटी अध्यक्ष न्यायाधीश स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता में पीठ ने यमुना नदी में प्राकृतिक तरीके से सड़नशील पदार्थों से बनी मूर्तियों के अलावा अन्य पदार्थों से बनी मूर्तियों के नदी में विसर्जन पर प्रतिबंध लगा दिया है.
एनजीटी द्वारा दिए गए मुख्य निर्देश
इसने प्लास्टिक या प्लास्टर ऑफ पेरिस से बनी मूर्तियों को नदी में विसर्जित करने पर प्रतिबंध जारी किया है जबकि प्राकृतिक तरीके से सड़न शील पदार्थों से बनी मूर्तियों का विसर्जन यमुना में किया जा सकेगा. और पढ़ें

6. विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस मनाया गया

अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस 21 सितम्बर 2015 को विश्वस्तर पर मनाया गया. यह दिवस प्रत्येक वर्ष 21 सितम्बर को मनाया जाता है. इस वर्ष का उद्देश्य विश्व में संघर्ष को समाप्त करने और शांति को बढ़ावा देने वाले लोगों के प्रयासों की पहचान करना है.
संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा यह दिवस विश्वस्तर पर शांति के आदर्शों को मजबूत बनाने और सभी देशों एवं लोगों के बीच शांति का प्रसार करने के लिए समर्पित है. वर्ष 2015 के लिए इस दिवस का विषय “पार्टनरशिप फॉर पीस – डिग्निटी फॉर आल” है.
इस वर्ष का विषय शांन्ति स्थापित करने में समाज के सभी वर्गों के महत्व पर प्रकाश डालता है. अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव संख्या 36 / 67 द्वारा वर्ष 1981 में स्थापित किया गया था. पहला शांति दिवस वर्ष 1982 के सितंबर माह में मनाया गया. और पढ़ें

7. नेपाल के नए संविधान पर योगी ने उठाए सवाल, कहा- हिंदू राष्‍ट्र के बगैर पहचान नहीं

बीजेपी के फायर ब्रांड लीडर महंत आदित्यनाथ ने नेपाल के प्रथम संविधान पर तीखी प्रतिक्रया दी है। उन्होंने कहा कि हिंदू राष्‍ट्र पहचान के बिना नेपाल की कल्पना नहीं की जा सकती। आठ साल बाद नेपाल में लागू किया गया संविधान एक आत्माविहीन संविधान है। यह नेपाल के अस्तित्व को खुद ही चुनौती दे रहा है।
सांसद आदित्यनाथ ने कहा कि राजनैतिक नेतृत्व अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए नेपाल को जातीय और क्षेत्रीय आधार पर हिंसा की आग में झोंक रहा है। इससे वह सिर्फ यूरोपियन यूनियन और चीन का मोहरा बनकर रह गया है। हिंदू पहचान खत्‍म करके नेपाल के अस्तित्व की कल्पना भी नही की जा सकती है। उन्‍होंने कहा कि नेपाल की 95 फीसदी जनता ने देश को हिंदू राष्ट्र के रूप में स्थापित करने की राय दी थी। इसके बावजूद हिंदू राष्ट्र मुद्दें से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए राजनैतिक नेतृत्व ने प्रांतीय और जातीय आधार पर आपस में लड़ाने का जो पाप किया, वह अक्षम्य है। और पढ़ें

 

करेंट अफेर्स & न्यूज़ अपडेट 21 सेप्टेंबर 2015

Comment Here

Leave a Reply