सेकंड फेज में आधे से ज्यादा कैंडिडेट करोड़पति, ड्रोन से होगी निगरानी

सेकंड फेज में आधे से ज्यादा कैंडिडेट करोड़पति, ड्रोन से होगी निगरानी

ड्रोन - न्यूज़ अपडेट 16 अक्टोबर 2015नेताओं की जुबान पर, चुनाव के चरण के हिसाब से एजेंडे चढ़ रहे। दूसरे चरण के प्रचार के आखिरी दिन यानी बुधवार को दोनों गठबंधनों ने कुल 76 सभाएं की। राजग के नेताओं की रिकॉर्ड 51 सभाएं हुईं और सब में मुख्य रूप से नीतीश सरकार के मंत्रियों का भ्रष्टाचार बाकायदा एजेंडा के रूप में दिखा। इतनी सभाएं एक रिकॉर्ड है। ये भी दिलचस्प है कि इस फेज में आधे से ज्यादा उम्मीदवार करोड़पति हैं।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत लगभग सभी नेताओं ने स्टिंग ऑपरेशन के हवाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पूछा कि भ्रष्ट मंत्री बचे क्यों है? वे उनपर कार्रवाई क्यों नहीं करते? इसका जवाब भी महागठबंधन की आखिरी दिन हुई 25 सभाओं से मिला। कहा गया-पहले आप अपने दाग देखें। लालू ने साथ में आरक्षण मुद्दे को और तीखे स्वर में उठाया। नीतीश ने आरोपी मंत्री अवधेश कुशवाहा पर हुई फौरन कार्रवाई का खासा जिक्र किया और भाजपा के वैसे मंत्रियों या बड़े नेताओं के नाम गिनाए, जिनके बदनामी के दायरे में आने के बावजूद कुछ नहीं हुआ। हां, राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद अब भी आरक्षण का मोर्चा थामे हुए हैं। और पढ़े

Comment Here

Leave a Reply