समीर पांडा के नेतृत्व वाली भारतीय टीम ने विस्फोट रोकथाम एवं पंचर उपचारात्मक प्रौद्योगिकी के लिए नासा का पुरस्कार जीता

Sameer-Panda

ओडिशा के समीर पांडा के नेतृत्व में भारतीय वैज्ञानिक के एक दल ने 6 नवम्बर 2015 को विस्फोट  रोकथाम एवं पंचर उपचारात्मक (BPPC) तकनीक नामक एक नवीन प्रौद्योगिकी के लिए नासा का पुरस्कार जीता.उदित बोंडिया के.एन. पांडा और स्मृतिपर्णा सत्पथी टीम के अन्य सदस्य हैं.भारतीय टीम ने यह पुरस्कार नासा और ऑटोमोबाइल इंजीनियर्स, इंटरनेशनल सोसायटी द्वारा आयोजित एक प्रतियोगिता क्रिएट द फ्यूचर डिजाइन कांटेस्ट 2015 में जीता.

उन्हें यह पुरस्कार बीपीपीसी  प्रौद्योगिकी पर आधारित और ऑटोमोटिव डिवीजन प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विघटनकारी और सफलता नवाचार पर काम कर रहे एक फर्म ताईचीजूनो द्वारा विकसित हल्के फ्लैट टायर के निर्माण  के लिए प्रदान किया गया.

यह टायर और साइड वाल  में पंचर की देखभाल करने के लिए कक्ष के अंदर सीलेंट के साथ एक बहु संभाग ट्यूबलेस टायर है…और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply