वैज्ञानिकों को पृथ्वी जैसे ग्रहों पर जीवन को संभव बनाने वाले पदार्थ मिले

earth_650x400_41447901366

वैज्ञानिकों ने एक नई खोज में पृथ्वी जैसे लेकिन इससे कई गुना बड़े ग्रहों (सुपर-अर्थ) पर ऐसे ‘निषिद्ध’ पदार्थों की खोज कर ली है, जो ग्रह पर जीवन के अनुकूल वातावरण का निर्माण करते हैं। इस अध्ययन के अनुसार, निषिद्ध पदार्थों के द्वारा पृथ्वी से मिलते-जुलते ग्रहों में ऊष्मा का स्थानांतरण तेज होता है और शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र का निर्माण होता है। सुपर ग्रहों की सतह ठोस होती है और द्रव्यमान पृथ्वी की तुलना में बहुत अधिक होता है, इसलिए वैज्ञानिकों ने इन्हें ‘सुपर अर्थ’ नाम दिया है।मास्को इंस्टीट्यूट ऑफ फिजिक्स एंड टेक्नोलॉजी (एमआईपीआईटी) के वैज्ञानिकों ने गणितीय मॉडल का उपयोग कर सुपर अर्थ के कोर में कुछ ऐसे यौगिकों की खोज की है, जिनका रसायन विज्ञान के शास्त्रीय नियमों के अनुसार निर्माण संभव ही नहीं है। एमआईपीआईटी के मुख्य वैज्ञानिक अर्टिम गैनोव के अनुसार, ‘हम कह सकते हैं कि मैग्नीशियम, ऑक्सीजन और सिलिकन ने पृथ्वी और पृथ्वी समान ग्रहों पर रसायन शास्त्र का आधार रखा है।’ यह ‘मैग्नीशियम-सिलिकन-ऑक्सीजन तंत्र’ पृथ्वी और चट्टानों के बनने के लिए महत्वपूर्ण तंत्र है। और पढ़ें

 

Comment Here

Leave a Reply