लोकसभा में परमाणु ऊर्जा (संशोधन) विधेयक, 2015 प्रस्तावित

year-end-review-atomic-energyकेंद्र सरकार ने 7 दिसम्बर 2015 को लोकसभा में परमाणु ऊर्जा (संशोधन) विधेयक, 2015 पेश किया.
इस विधेयक का मुख्य उद्देश्य नई परमाणु बिजली परियोजनाओं की स्थापना में आने वाली समस्याओं को दूर करना और स्थापना में इस कारण होने वाली देरी को कम करना.
इस विधेयक के माध्यम से परमाणु ऊर्जा अधिनियम, 1962 में संशोधन किया जाएगा.
विदित हो वर्तमान में नागरिक परमाणु ऊर्जा परियोजना के लिए भारत के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को अन्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के संयुक्त उद्यम के गठन के लिए अतिरिक्त कोष की आवश्यकता होती है.
परन्तु परमाणु ऊर्जा अधिनियम,1962 के अंतर्गत “सार्वजिनक उपक्रम” को उस उपक्रम के रूप में पारिभाषित किया गया है जिसमे 51 प्रतिशत पेडअप कैप्टल केंद्र सरकार का हो.
उक्त परिभाषा के अनुसार सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों द्वारा संयुक्त उद्यम स्थापित करने में अवरोध उत्पन्न होता है. और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply