राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने निखिल भारत बंग साहित्य सम्मेलन के 88वें वार्षिक सम्मेलन का उद्घाटन किया

pranab_mukherjee-621x414राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 10 जनवरी 2016 को रांची (झारखंड) में निखिल भारत बंग साहित्य सम्मेलन के 88वें वार्षिक सम्मेलन का उद्घाटन किया. यह सम्मलेन तीन दिनों तक चलेगा.

निखिल भारत बंग साहित्य सम्मेलन के 88वें वार्षिक सम्मेलन का उद्घाटन के अवसर पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि बंगाली साहित्य, भाषा और संस्कृति की महान परंपराओं की उत्पत्ति ‘चार्यापदा’ काल की है. यह एक बंगाली संकलन है, जिसे विख्यात विद्वान हाराप्रसाद शास्त्री द्वारा 1907 में नेपाल में खोजा गया था.

विदित हो कि निखिल बंग साहित्य सम्मेलन को शुरुआत में प्रबासी बंग साहित्य सम्मेलन के रूप में जाना जाता था. इसकी शुरुआत वर्ष 1922 में हुई थी. वर्ष 1923 में हुए वाराणसी सत्र में इसे रवींद्र नाथ टैगोर का संरक्षण प्राप्त हुआ. और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply