भारत के पास 75 से 125 परमाणु हथियार लायक प्लूटोनियम

1fc91eb95ec7d0c62c804bb5c261c8aa_342_660इंस्टीट्यूट फॉर साइंस एंड इंटरनेशनल सिक्योरिटी ने कहा कि भारत का परमाणु कार्यक्रम विकासशील देशों में सबसे बड़े परमाणु कार्यक्रमों में से एक है। इसकी ओर से सोमवार जारी रिपोर्ट में कहा गया है, भारत के परमाणु हथियार का अंदाजा उसके वेपन-ग्रेड प्लूटोनियम भंडार को देखते हुए लगाया जा सकता है। परिणामस्वरूप यह अनुमान 110 से 175 हथियारों के बराबर तथा औसतन 138 परमाणु हथियारों का है।

इसमें कहा गया है,  हालांकि हथियार बनाने योग्य प्लूटोनियम के स्टाक से भारत द्वारा बनाए गए परमाणु हथियारों की संख्या वास्तव में इससे कम है। जब परमाणु हथियार बनाने में प्लूटोनियम की मात्रा और इसके भंडार पर गौर करते हैं तब यह कहना व्यावहारिक होगा कि हथियार बनाने योग्य यूरेनियम के भंडार का केवल 70 प्रतिशत ही परमाणु हथियार में उपयोग किया गया होगा।

डेविड अलब्राइट और सेरेना केल्हर वेरगांटिनी द्वारा तैयार इस रिपोर्ट में उल्लेख है,  परमाणु हथियार बनाने योग्य प्लूटोनियम से 2014 के अंत तक करीब 97 हथियार बनाने का अनुमान है जो 77 से 123 की संख्या के दायरे में हो सकता है। इन हथियार की संख्या मोटे अनुमान में 100 हो सकती है जो 75 से 125 परमाणु हथियारों के दायरे में होगी। और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply