दूसरी तिमाही में GDP ग्रोथ 7.4 प्रतिशत, भारत ने चीन को पछाड़ा

2015_11$largeimg230_Nov_2015_211044597विनिर्माण, खनन और सेवा क्षेत्र में गतिविधियां बढने से देश की आर्थिक वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही जुलाई-सितंबर में बढ कर 7.4 प्रतिशत हो गई. इसके साथ ही भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढने वाली अर्थव्यवस्था के तौर पर चीन से आगे निकल गया है. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर सात प्रतिशत थी। अनुमान है कि पहली तिमाही के मुकाबले दूसरी तिमाही में इसमें जो सुधार दिखा है.

वह रिजर्व बैंक द्वारा हाल के महीनों में लगातार दरों में की गई कटौती के मद्देनजर हुआ है. इसके साथ ही केंद्रीय बैंक की कल जारी की जाने वाली मौद्रिक नीति की समीक्षा में नीतिगत ब्याज दर (रेपो) को स्थिर रखने की धारणा को मजबूती मिली है. वर्ष 2015-16 की जुलाई से सितंबर की दूसरी तिमाही में वृद्धि के जो आंकडे आये हैं वह हालांकि, एक साल पहले की इसी तिमाही में हासिल 8.4 प्रतिशत की वृद्धि दर के मुकाबले काफी नीचे हैं. दूसरी तिमाही में भारत की 7.4 प्रतिशत की वृद्धि दर इसी अवधि के दौरान चीन में 6.9 प्रतिशत की वृद्धि से बेहतर है. रुस की वृद्धि दर में इस दौरान 4.1 प्रतिशत की गिरावट आई है. ब्राजील के बारे में यह अनुमान है कि उसकी अर्थव्यवस्था में 4.2 प्रतिशत की गिरावट आयी होगी. और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply