जलवायु समझौते का नया मसौदा जारी, लेकिन अहम मुद्दे अनसुलझे

dbddf1cb9f2b07f245cc24d5f3b62766_342_660“जलवायु परिवर्तन पर एेतिहासिक समझौते की समय सीमा से दो दिन पहले वार्ताकारों ने एक नया और छोटा मसौदा जारी किया है जिसमें सभी महत्वपूर्ण प्रगतियों और मतभेदों को शामिल किया गया है। हालांकि यह मसौदा भी जटिल मुद्दों पर मतभेदों को दूर करने में नाकाम रहा है। ”

पेरिस में निकले नतीजे का यह पहला मसौदा दो दिवसीय मंत्री स्तरीय गहन विमर्श के बाद तैयार किया गया है जिसे फ्रांस के विदेश मंत्री लाॅरेंत फैबियस ने जारी किया। इस मसौदे पर अब 196 देशों द्वारा विचार किया जाएगा जिसके बाद ही अंतिम फैसले पर पहुंचेंगे। नये मसौदा का पाठ पिछले वाले के मुकाबले काफी छोटा महज 29 पृष्ठों का है जिसे वार्ता में शामिल सभी देशों को वितरित किया गया। इससे पहला मसौदा 48 पन्‍नों का था।

कौन उठाएगा पर्यावरण बचाने का खर्च

मसौदे के बारे में जलवायु परिवर्तन वार्ता के वर्तमान सत्र के अध्यक्ष फैबियस ने बताया कि इस मसौदे का लक्ष्य सभी देशों को अभी तक हुई प्रगति से अवगत कराना है। और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply