आईओसी ने ओलंपिक प्रतिस्पर्धा में शरणार्थियों को भाग लेने की अनुमति दी

आईओसी ने ओलंपिक प्रतिस्पर्धा में शरणार्थियों को भाग लेने की अनुमति दी

IOC470x263अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थॉमस बाक ने 26 अक्टूबर 2015 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में घोषणा की कि शरणार्थियों के रूप में रहने वाले कुशल खिलाड़ियों को पहली बार ओलंपिक खेलों में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी. इसमें एक प्रस्ताव पारित किया गया है जिसमें सभी देशों से रियो डि जनेरियो में 2016 में होने वाले ओलंपिक और पैराओलंपिक के दौरान लड़ाई बंद करने और शांति बनाये रखने की अपील की गयी है.

बाक ने संयुक्त राष्ट्र के सभी 193 सदस्य देशों से प्रतिभाशाली शरणार्थी खिलाड़ियों की पहचान करने में आईओसी की मदद करने की भी अपील की. आईओसी ने 2016 ओलंपिक खेलों में शरणार्थी खिलाड़ियों का स्वागत करने का फैसला किया है जहां वे 206 राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों के 11000 खिलाड़ियों के साथ ओलंपिक गांव में रहेंगे.
विश्व में अभी कुल दो करोड़ शरणार्थी हैं और उनकी संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. आईओसी ने शरणार्थियों के लिये खेलों के जरिये उम्मीद जगाने के लिये 20 लाख डॉलर का कोष तैयार किया है. और पढ़ें  

Comment Here

Leave a Reply