अमेरिका ने बढ़ाई ब्याज दरें, भारत पर होंगे ये पांच असर

indian_economy_17_12_2015अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने 10 सालों में पहली बार ब्याज दरों में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी की है। इसके पूर्व 2006 में ब्याज दर बढ़ाई गई थी।

इस फैसले का असर न केवल अमेरिका बल्कि पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा। भारत को भी इसके प्रभावों नजर रखना होगी। एक नजर उन पहलुओं पर, जो अमेरिका में लिए गए इस फैसले से प्रभावित हो सकते हैं-

शेयर मार्केट-रुपया: फैसले का सीधा असर भारतीय शेयर बाजार और डॉलर के मुकाबले रुपए की सेहत पर पड़ेगा। हालांकि फैसले की अगली सुबह यानी आज सेंसेक्स बढ़कर खुला है, लेकिन केंद्रीय वित्त मंत्री को इस पर नजर रखना होगी। ऊंची ब्याज दरें यानी निवेशक अमेरिका की ओर आकर्षित होंगे। इससे डॉलर बनाम रुपए के समीकरण पर असर पड़ सकता है। रुपए का कमजोर होना भारत को भारी पड़ सकता है। और पढ़ें

Comment Here

Leave a Reply